माधव प्लाजा मे आएगा मल्टीप्लेक्स, यहां की दुकानों पर बिखरेगी रौनक

सीईओ के. के. सिंह गौर का वादा माधव प्लाजा के हितग्राहियों की परेशानी होगी दूर, जिनकी पूरी राशि जमा उनकी होगी रजिस्ट्री

द ग्वालियर। माधव प्लाजा प्रोजेक्‍ट को अब सार्थक करने की तैयारी की जा रहीं है। यहां अब मल्‍टीप्‍लेक्‍स भी आएगा। ताकि यहां दुकानों पर रौनक बिखर सके। ग्‍वालियर विकास प्राधिकरण के मुख्‍य कार्यपालन अधिकारी केके सिंह गौर ने आज चेम्‍बर ऑफ कॉमर्स में हुई बडी बैठक में इस बात की जानकारी दी। इतना ही नहीं उन्‍होने कहा कि माधव प्लाजा प्रोजेक्ट में पर्यावरण एनओसी न होने के कारण विलंब हुआ है और इसमें उस समय के अधिकारियों से निश्‍चित ही चूक हुई है।

हालांकि वर्ष 2014 में एनओसी के लिए प्रस्ताव भेजा था जो कि हमें पांच वर्ष बाद वर्ष 2019 में प्राप्त हो सकी| जीडीए से आपको जो शिकायतें वह होना भी चाहिए, लेकिन उन्‍होने विश्‍वास दिलाया कि अब उनके रहते माधव प्लाजा से संबंधित समस्याओं का निराकरण जल्‍द होगा। दरअसल चेम्‍बर ऑफ कॉमर्स में बुलाई गई इस बैठका का मकसद माधव प्लाजा में पूर्ण राशि जमा कर चुके हितग्राहियों की परेशानी दूर करने तथा रजिस्ट्री  में आ रही बाधाओं को दूर करना था।  जीडीए सीईओ ने कहा कि माधव प्लाजा के हितग्राही रजिस्ट्री, नामांतरण आदि से संबंधित आवेदन चेम्बर के माध्यम से प्रेषित करें ताकि उनका शीघ्र निराकरण कराया जा सके|

150 दुकानों की पूरी राशि जमा 7 दिन में होगी रजिस्ट्री

माधव प्‍लाजा में 551 दुकानें हैं जिनमें से 150 हितग्राहियों ने पूर्ण राशि जमा कर दी है,160 हितग्राहियों का पार्ट पेमेंट जमा हुआ है, जबकि 150 दुकानें अब भी शेष हैं जिसमें 75 ग्राउण्ड फ्लोर पर हैं, जिन्हें कि सर्राफा व्यवसायी ले सकते हैं| इस प्रोजेक्ट में सेन्ट्रल ए.सी. प्लांट लगाया गया है, जिसकी डिमांड हितग्राही से की जा रही है| जीडीए सीईओ ने कहा कि रजिस्ट्री दिनांक से 3 माह तक मेंटेनेंस चार्ज नहीं लिया जायेगा| माधव प्लाजा में पेड पार्किंग है, जो कि दुकानदारों को नॉमीनल चार्जेज पर दी जायेगी| माधव प्लाजा के हितग्राहियों के लिए अलग से विण्डो स्थापित की जायेगी| हितग्राहियों की रजिस्ट्री, नामांतरण आदि कार्य 7 दिवस में कराया जायेगा|

क्‍या बोले चेम्‍बर के पदाधिकारी

बैठक की अध्यक्षता कर रहे अध्यक्ष विजय गोयल ने कहा कि जीडीए के पास पर्यावरण की एनओसी न होने के कारण इस प्रोजेक्ट में देरी हुई है और इस विलंब का उत्तरदायित्व हितग्राहियों पर नहीं डाला जाना चाहिए| ऐसे हितग्राही जिनकी कुछ किश्तें शेष रहीं है, उनसे ब्याज की मांग पूर्णत: अनुचित है क्योंकि इसमें हितग्राही दोषी नहीं है|

मानसेवी सचिव डॉ. प्रवीण अग्रवाल ने कहा कि संभागायुक्त से हुई चर्चा में हमने स्पष्ट कहा था कि ब्याज की मांग बिल्कुल अनुचित है और इसे हम हितग्राहियों से लेने नहीं देंगे| जिन हितग्राहियों ने अपनी पूर्ण राशि जमा कर दी है, उनकी जल्द से जल्द रजिस्ट्री कराई जानी चाहिए और मेंटनेंस शुल्क में छह माह की छूट मिलना चाहिए| संभागायुक्त महोदय ने ब्याज माफ करने हेतु शासन को प्रस्ताव भेजने तथा मेंटनेंस शुल्क रजिस्ट्री कराने के तीन माह तक तथा दुकान खुलने के पश्‍चात् तीन माह तक मेंटनेंस चार्ज न लिये जाने का प्रस्ताव पास करने की बात कही थी|

कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल ने कहा कि रैरा अब मप्र में लागू है तो माधव प्लाजा के हितग्राहियों को उसके अनुसार ही रजिस्ट्री व अन्य सुविधाएं जीडीए को देना चाहिए| प्रोजेक्ट में हुई देरी से माधव प्लाजा का रिनोवेशन व पार्किंग की व्यवस्था भी की जाना चाहिए|  

क्‍या बोले हितग्राही

बैठक में उपस्थित हुए माधव प्लाजा के हितग्राहियों ने कहा कि जिस उद्देश्य से माधव प्लाजा में दुकानें बुक कराई थीं, वह प्रोजेक्ट में हुई देरी से पूरा नहीं हो सका है| 5 वर्ष से अधिक समय पूर्व पूरी राशि जमा करने के बाद भी आज तक रजिस्ट्री नहीं हो सकी है| कई हितग्राहियों ने बैंक से ऋण लेकर दुकानें ली थीं| जीडीए जो राशि जमा की थी आज यदि उसकी एफडी करते तो उससे लाखों रूपये ब्याज मिल जाता परंतु जीडीए अपनी गलती होने के बाद भी हितग्राहियों से ब्याज की राशि मांग रहा है जो हितग्राहियों के साथ न्याय नहीं है| जिन्होंने दुकान बुक कराई थी, उस हितग्राही का निधन होने पर नामांतरण कई चक्कर लगाने के बाद भी कार्य नहीं हो पा रहा है| यदि कोई हितग्राही रिफण्ड मांगता है तो उसे रिफण्ड नहीं दिया जा रहा है|  

ये रहे बैठक में शामिल

बैठक का संचालन मानसेवी सचिव-डॉ. प्रवीण अग्रवाल तथा आभार संयुक्त अध्यक्ष-प्रशांत गंगवाल द्बारा व्यक्त किया गया| अतिथि को स्मृति चिन्ह कोषाध्यक्ष वसंत अग्रवाल द्बारा भेंट किया गया|  बैठक में रवि प्रताप अग्रवाल, शरद अग्रवाल, राकेश अग्रवाल, सुदर्शन झंवर, विमल गुप्ता, नेमीचंद गोयल, शोभा गुप्ता, बालचंद जैन, रमेशचंद गुप्ता, शशिकांत माहेश्‍वरी, घनश्याम गुडसेले, रामेन्द्र सिंह कुशवाह, मनोज चौरसिया, नरेन्द्र सिंह सिकरवार आदि उपस्थित थे|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *