नर्सेस एसोसिएशन ने जयाराेग्‍य चिकित्‍सालय समूह अधीक्षक के समक्ष उठाया समयमान वेतनमान का मुद्दा

नर्सेस को शासकीय कार्य के दौरान आ रही समस्‍याओं से भी करवाया अवगत। विभिन्‍न मुद़दों को लेकर अधीक्षक को सौंपा ज्ञापन।

द ग्‍वालियर। नर्सेस एसोसिएशन मध्‍यप्रदेश ने अपनी विभिन्‍न मांगों को लेकर सोमवार को जयारोग्‍य चिकित्‍सालय समूह के अधीक्षक को ज्ञापन सौंपा। एसोसिएशन पदाधिकारियों ने अधीक्षक को नर्सेस को शासकीय कार्य के दौरान आ रही समस्‍याओं से अवगत करवाया, जिस पर अधीक्षक ने जल्‍द समस्‍या के समाधान का आश्‍वासन दिया है।    

नर्सेज एसोसिएशन की जिला अध्‍यक्ष भावना पंकज सेंगर ने कहा कि जीआरएमसी के स्‍वशासी कर्मचारी को 1 वर्ष 6 माह पूर्व ही समयमान वेतनमान का लाभ दिया जा चुका है। उनके द्वारा विगत 3 वर्षों से समयमान वेतनमान का मुद्दा उठाया जा रहा है, परंतु आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला।  

कोविड-19 के दौरान अस्‍पताल में नर्सेस की भारी कमी होने के बाद भी उनके द्वारा पूरी शिद्दत एवं ईमानदारी से कार्य किया गया। बावजूद इसके उनको आज दिनांक तक समयमान का लाभ नहीं दिया गया है। उन्‍होंने बताया कि कई विभागों में स्टाफ नर्स प्रभारी इंचार्ज का कार्य कर रहे हैं। समस्त स्टाफ के एकत्रित सुझाव के आधार पर प्रभारी इंचार्ज की रात्रि कालीन ड्यूटी कोविड-19 में लगाई जाए। महिला स्‍टाफ की प्रसूति संबंधी अवकाश निरस्‍त किए जा रहे हैं। उन्‍हें स्‍वीकार कर वेतन दिया जाए। उन्‍होंने कहा कि जो कोविड पॉजिटिव आने वाले कर्मचरियों की दो माह तक ड़यूटी कोविड वार्ड में नहीं लगाई जाए। ओपीडी के कमरा 76 जो कि इंजेक्‍शन रूम के लिए चिन्हित है उस पर फीजियोथेरेपी विभाग ने अनाधिकृत कब्जा कर रखा है उसे खाली करवाया जाए।

एसोसिएशन ने नर्सेस की सीएल स्‍वीकृति का मुद़़दा उठाने के साथ-साथ और भी कई मांग अधीक्षक के समक्ष रखी, जिसको सुनने के बाद उठाया जयारोग्‍य चिकित्‍सालय समूह के अधीक्षक आरकेएस धाकड ने एसोसिएशन पदाधिकारी एवं नर्सों की समस्‍याओं पर जल्‍द विचार कर समाधान का आश्‍वासन दिया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!