किसानों का भुगतान न करना और खराब धान खरीदना दो समिति प्रबंधकों को पड़ा भारी, कलेक्टर के निर्देश- समिति प्रबंधकों की जमीन होगी अधिग्रहीत

कौशलेंद्र विक्रम सिंह, कलेक्‍टर ग्‍वालियर

कलेक्‍टर कौशलेंद्र विक्रम सिंह की हिदयात किसानों के हितों की अनदेखी कदापि बर्दाश्त नहीं होगी।

द ग्वालियर। समर्थन मूल्य पर धान बेचकर गए किसानों को भुगतान न करना और अमानक धान खरीदना दो समितियों के प्रबंधकों को भारी पड़ा है। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने इन समिति प्रबंधकों की जमीन का अधिग्रहण करने और दण्डात्मक कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। सोमवार को आयोजित हुई अंतरविभागीय समन्वय बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने यह निर्देश दिए।

बैठक में बताया गया कि हरसी सोसायटी के समिति प्रबंधक द्वारा 11 किसानों को 18 लाख रूपए का भुगतान नहीं किया गया है, जिससे किसान परेशान हैं। कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने सोसायटी प्रबंधक जगदीश यादव की निजी जमीन का अधिग्रहण कर एपेक्स बैंक के नाम करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही एपेक्स बैंक से संबंधित किसानों का भुगतान कराने को कहा है। उन्होंने समिति प्रबंधक के खिलाफ दण्डात्मक कार्रवाई करने की हिदायत भी दी है।

इसी तरह सहकारी संस्था गोहिंदा के प्रबंधक मदन तिवारी द्वारा 2 हजार क्विंटल खराब धान की खरीदकर सोसायटी में जमा कराया गया। जाँच में यह धान अमानक पाया गया है। कलेक्टर श्री सिंह ने मदन तिवारी की निजी जमीन का अधिग्रहण शासन हित में करने के निर्देश दिए हैं।

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में जोर देकर कहा कि किसानों के हितों की अनदेखी कदापि बर्दाश्त नहीं होगी। किसानों के सभी तरह के भुगतान में कतई देरी न हो अन्यथा संबंधित अधिकारियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी।

बैठक में सीएम हैल्पलाइन व समय-सीमा के प्रकरणों का निराकरण सहित सरकार के अन्य प्राथमिकता वाले कार्यक्रमों की समीक्षा की गई। साथ ही 11 जनवरी से शुरू हुए प्रदेशव्यापी महिला जागरूकता अभियान “सम्मान” के संबंध में भी विभागीय अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए।

बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी शिवम वर्मा, अपर कलेक्टर  किशोर कान्याल, आशीष तिवारी, टी एन सिंह व रिंकेश वैश्य, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास राजीव सिंह सहित विभिन्न विभागों के जिला स्तरीय अधिकारी व जिले के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!