‘’आइटम’’ कहना पड़ा भारी, कमलनाथ से छिना स्टार प्रचारक का दर्जा

चुनाव आयोग का आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू। अब कहीं किया चुनाव प्रचार तो प्रत्‍यशी के खाते में जुड़ेगा प्रचार एवं यात्रा का खर्चा।

द ग्‍वालियर। चुनाव आयोग (Election Commission of India) ने पूर्व मुख्‍यमंत्री कमलनाथ (Ex. Chief Minister KamalNath) से उपचुनाव (BY-Election) में स्‍टार प्रचारक का दर्जा छीन लिया है। कमलनाथ को डबरा की सभा में कैबिनेट मंत्री एवं भाजपा प्रत्‍याशी इमरती देवी (Imarti Devi) को ‘’आइटम’’ बोलने का खामियाजा भुगतना पड़ा है। अब कमलनाथ मध्‍य प्रदेश में किसी भी प्रत्‍याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार, रैली और सभा नहीं कर पाएंगे। चुनाव आयोग ने आदेश तत्‍काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है।

मध्‍यप्रदेश उपचुनाव में डबरा से कांग्रेस प्रत्‍याशी सुरेश राजे के समर्थन में आयोजित सभा में पूर्व मुख्‍यमंत्री कमलनाथ ने भाजपा प्रत्‍याशी इमरती देवी को ‘’आइटम’’ बोला था, जिसके बाद भाजपा ने कांग्रेस और कमलनाथ पर जमकर हमला बोला।

कमलनाथ ने अपने प्रचार के दौरान सभाओं में ‘’शिवराज नौटंकी के कलाकार, मुंबई जाकर एक्टिंग करें’’ और ‘’आपके भगवान तो वो माफिया हैं जिससे आपने मध्‍यप्रदेश की पहचान बनाई आपके भगवान तो मिलावट खोर हैं।‘’ भी कहा था। जिसकी शिकायत भाजपा द्वारा चीफ इलेक्‍शन अफसर मध्‍यप्रदेश को की गई थी। वहीं, इमरती देवी के मामले में महिला आयोग की अध्‍यक्षा ने भी चुनाव आयोग से शिकायत की थी।

चुनाव आयोग ने शिकायत का निराकरण करते हुए कमलनाथ द्वारा कहे शब्‍दों को आदर्श आचार संहिता का उल्‍लंघन मानकर स्‍टार प्रचारक का दर्जा छीन लिया है। चुनाव आयोग के आदेश दिनांक 30 अक्‍टूबर 2020 के अनुसार अब कमलनाथ किसी भी विधानसभा में प्रत्‍याशी के समर्थन में चुनाव प्रचार नहीं कर पाएंगे। यदि वह ऐसा करते हैं तो उनके प्रचार, रैली और सभा एवं यात्रा का खर्चा प्रत्‍याशी के खर्चे में जोड़ दिया जाएगा। जिला निर्वाचन अधिकारी भी पूर्व मुख्‍यमंत्री कमलनाथ को किसी भी चुनाव प्रचार की अनुमति प्रदान नहीं करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!