साडा सड़क घोटाले के 5 आरोपियों की हाईकोर्ट ने की याचिका खारिज

विशेष न्यायालय भ्रष्टाचार निवारण के आदेश के खिलाफ की गई थी याचिका

द ग्वालियर। हाईकोर्ट ने साड़ा में हुए सड़क घोटाले के आरोपी डीडी मिश्रा, जीएन सिंह, सुरेंद्र कुमार श्रीवास्तव, आदित्य सिंह तोमर तथा बीबी माथुर की याचिकाओं को खारिज कर दिया है। यह याचिकाएं विशेष न्यायालय भ्रष्टाचार निवारण कोर्ट द्वारा उनके खिलाफ दिए गए आदेश को चुनौती देते हुए प्रस्तुत की गई थी। न्यायमूर्ति शील नागू एवं न्यायमूर्ति राजीव कुमार श्रीवास्तव की युगलपीठ ने पांचों याचिकाओं को सुनने के बाद उन्हें खारिज करते हुए कहा कि इस मामले में उच्च न्यायालय को हस्तक्षेप करने की आवश्यकता नहीं है। आरटीआई कार्यकर्ता राकेश सिंह कुशवाह ने विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण साड़ा में हुए सड़क घोटाले के मामले में शिकायत की थी। लोकायुक्त पुलिस ने इस मामले की जांच के बाद उपरोक्त आरोपीगण के अलावा अन्य आरोपियों के खिलाफ भी धोखाधड़ी के मामले में एफआईआर दर्ज की थी। इस मामले में जांच के बाद लोकायुक्त पुलिस ने उपरोक्त पांचों आरोपियों के खिलाफ प्रमाण नहीं मिलने की बात कहते हुए क्लीन चिट दे दी थी। विशेष न्यायालय ने लोकायुक्त पुलिस द्वारा की गई इस कार्यवाही को खारिज करते हुए पांचों के खिलाफ अभियोजन पत्र प्रस्तुत करने की कार्रवाई करने के निर्देश लोकायुक्त व पुलिस को दिए थे। विशेष न्यायालय के इस आदेश के खिलाफ पांचों ने उच्च न्यायालय में याचिका प्रस्तुत की थी जिसे न्यायालय ने खारिज कर दिया।

काम था 18 लाख का भुगतान किए 78 लाख

दरअसल, मोती झील से सड़क तक सड़क के मरम्मत एवं निर्माण का ठेका मैं सर्च प्रेस्टीजियस स्टार्स को दिया गया था। ठेके की शर्तों के अनुसार ठेकेदार को यहां एक लेयर बिछानी थी जिसका 18 लाख 90 हजार का भुगतान होना था। ठेकेदार द्वारा यहां 4 लेयर की सड़क का निर्माण किया गया, जिसका साडा द्वारा 78 लाख का भुगतान किया गया। इस मामले में 14 लोगों पर एफआईआर दर्ज की गई। जिनमें तत्कालीन सीईओ आदित्य सिंह तोमर व तत्कालीन अध्यक्ष जय सिंह कुशवाह सहित 14 लोगों के नाम थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!