ग्वालियर मेरी जन्मभूमि है और यहां के लिए विकास हमेशा समर्पण रहेगा : नरेंद्र सिंह तोमर

द ग्वालियर। किसी एक व्यक्ति या संस्था में सभी कुछ अच्छा हो, इसका दावा नहीं किया जा सकता, लेकिन ऐसा काम जरूर हो, जिसका लाभ सभी को पहुंचे। ग्वालियर मेरी जन्मभूमि है और मैं कहीं भी रहूं, लेकिन मेरा समर्पण यहां के लिए हमेशा रहेगा। राजनीति और सरकार की प्राथमिकता वोट रहती है, लेकिन भाजपा ने हमेशा विकास का काम किया और इसके लिए आलोचना की परवाह नहीं की और आज इसका लाभ देश को मिल रहा है। शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बंधन वाटिका में व्यापारिक संस्थाओं के कार्यक्रम ‘ग्वालियर के आर्थिक एवं नगरीय विकास पर चर्चा’ को संबोधित कर रहे थे। 

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि भाजपा ने विकास के लिए कभी भी वोट की परवाह नहीं की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में जीएसटी, सीएए, धारा 370 और राम मंदिर निर्माण जैसे बड़े कदम उठाए। लोगों ने आलोचना भी की, लेकिन अंत में लोगों ने माना कि बड़े निर्णय लेने से देश में बदलाव आता है। सभी नागरिकों को उसका लाभ मिलता है। इन्हीं बदलावों के कारण देश अब नयी उड़ान भरने को तैयार है।

उन्होंने कहा कि पुरानी पीढ़ी के लोग जोखिम नहीं उठा पाते, लेकिन युवा यह काम कर रहे हैं। कोरोना संकट में प्रधानमंत्री मोदी ने एग्रीकल्चर सेक्टर के लिए करीब डेढ़ लाख करोड़ का पैकेज दिया है। जिन बैंकों में ऋण लेने के लिए जूते-चप्पल घिस जाते थे, आज वही बैंक लोगों के दरवाजे पर ऋण देने के लिए खड़े हैं। कई प्रोजेक्ट उनके दफ्तर में प्रतिदिन आ रहे हैं।

ग्वालियर के विकास के लिए उन्होंने कहा कि यह तो मेरी जन्मभूमि है और इसके विकास के लिए हमेशा से समपर्ण रहेगा। अब उपचुनाव सामने हैं और यह चुनाव विकास की दशा व दिशा तय करेगा। लोगों ने प्रदेश में भाजपा की 15 वर्ष की सरकार को देखा है। वहीं 15 महीने रही कांग्रेस सरकार का भी अनुभव लिया है। प्रदेश के व्यापक हित के लिए भाजपा सरकार का होना जरूरी है। प्रत्याशी कोई भी हो, लेकिन यह चुनाव भाजपा को स्थायीत्व प्रदान करेगा और वोट देने के लिए लोग भाजपा के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान, नरेंद्र सिंह तोमर और ज्योतिरादित्य सिंधिया को देखें।

इस अवसर पर प्रदेश सरकार के उद्योग मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि कोरोना काल हमारे देश प्रदेश के उद्योग व्यापार जगत के लिए आपदा के साथ ही अवसर के रूप में उभरकर सामने आया है। जो चीन कोरोना काल से पहले विश्व का 50 प्रतिशत उत्पादन करता था, वह दुनिया के देशों द्वारा बहिष्कृत किए जाने के बाद सिमट गया है। अब आगे आने वाला वक्त भारत के उद्यमियों और व्यापारियों का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार करने के लिए यह सबसे अनुकूल मौका है।

उन्होंने कहा कि अपने व्यापार, उद्योग को विस्तार देने के लिए ग्वालियर चंबल के व्यापारी एवं उद्योगपति विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि पिछले कई दिनों से ग्वालियर चंबल अंचल में ही हैं और यहां के छोटे मझोले एवं बडे़ सभी उद्यमियों और व्यापारियों से मिलकर उनकी समस्याएं सुन रहे हैं। उनके निराकरण का रास्ता भी बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ग्वालियर चंबल के व्यापारियों के साथ खड़ी है।  

केंद्रीय मंत्री तोमर विकास के हस्ताक्षर और गांरटी है : पाराशर

प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस की सरकारें रहीं, लेकिन विकास के मामले में ग्वालियर उपेक्षित रहा। थोड़े बहुत काम स्व. माधवराव सिंधिया के केंद्रीय मंत्री बनने पर हुए। कुछ केंद्रीय संस्थान ग्वालियर में आए, कुछ सड़कें बनी, एयरपोर्ट का विकास हुआ। वहीं जब नरेंद्र तोमर ग्वालियर के सांसद और केंद्रीय मंत्री बने तो ग्वालियर शहर में अकेले 10 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्य हुए। एक साथ पांच ओवरब्रिज बने। पूरे ग्वालियर अंचल में ही 25 हजार करोड़ रुपए के काम हुए। आज ग्वालियर आओ तो ऐसा लगता है कि किसी महानगर में प्रवेश कर रहे हैं। यह सब संभव हुआ है, नरेंद्र तोमर के प्रयासों से, जो विकास के सशक्त हस्ताक्षर हैं।  

प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का किया सम्मान

कार्यक्रम में प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का सम्मान किया गया। उन्हें सम्मानित करते हुए व्यापारिक संगठन के प्रतिनिधियों ने कहा कि ग्वालियर के विकास का जो काम होगा, उसके लिए सेतु का काम पाराशर करेंगे, जिससे ग्वालियर और आगे बढ़ेगा।

कार्यक्रम का संचालन दीपक अग्रवाल, दीपक पमनानी एवं आभार राजकुमार गुप्ता ने व्यक्त किया। इस अवसर पर विजय गोयल, तरूण गोयल, अरविंद अग्रवाल, डॉ सीपी लाडकानी, राजकुमार प्रिंस, हरिबाबू गोयल, अतुल अग्रवाल, सुरेश बंसल, जयंत शर्मा, संजय कट्ठल, रमेश अग्रवाल, मुकेश अग्रवाल, रवि गुप्ता, चंद्रप्रकाश शिवहरे, कुलदीप भारद्वाज, अजय बंसल, पारस जैन, मनोज चैरसिया,  श्रीचंद्र बलेचा, आरपी माहेश्वरी, गोकुल बंसल, आशीष वैश्य उपस्थित थे।

वोट की राजनीति से ऊपर उठकर प्रधानमंत्री श्री मोदी ने लिए देश हित में लिए निर्णय। भाजपा के जीतने पर जारी रहेगा अंचल का विकास।

द ग्वालियर। किसी एक व्यक्ति या संस्था में सभी कुछ अच्छा हो, इसका दावा नहीं किया जा सकता, लेकिन ऐसा काम जरूर हो, जिसका लाभ सभी को पहुंचे। ग्वालियर मेरी जन्मभूमि है और मैं कहीं भी रहूं, लेकिन मेरा समर्पण यहां के लिए हमेशा रहेगा। राजनीति और सरकार की प्राथमिकता वोट रहती है, लेकिन भाजपा ने हमेशा विकास का काम किया और इसके लिए आलोचना की परवाह नहीं की और आज इसका लाभ देश को मिल रहा है। शुक्रवार को केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर बंधन वाटिका में व्यापारिक संस्थाओं के कार्यक्रम ‘ग्वालियर के आर्थिक एवं नगरीय विकास पर चर्चा’ को संबोधित कर रहे थे। 

केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर ने कहा कि भाजपा ने विकास के लिए कभी भी वोट की परवाह नहीं की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में जीएसटी, सीएए, धारा 370 और राम मंदिर निर्माण जैसे बड़े कदम उठाए। लोगों ने आलोचना भी की, लेकिन अंत में लोगों ने माना कि बड़े निर्णय लेने से देश में बदलाव आता है। सभी नागरिकों को उसका लाभ मिलता है। इन्हीं बदलावों के कारण देश अब नयी उड़ान भरने को तैयार है।

उन्होंने कहा कि पुरानी पीढ़ी के लोग जोखिम नहीं उठा पाते, लेकिन युवा यह काम कर रहे हैं। कोरोना संकट में प्रधानमंत्री मोदी ने एग्रीकल्चर सेक्टर के लिए करीब डेढ़ लाख करोड़ का पैकेज दिया है। जिन बैंकों में ऋण लेने के लिए जूते-चप्पल घिस जाते थे, आज वही बैंक लोगों के दरवाजे पर ऋण देने के लिए खड़े हैं। कई प्रोजेक्ट उनके दफ्तर में प्रतिदिन आ रहे हैं।

ग्वालियर के विकास के लिए उन्होंने कहा कि यह तो मेरी जन्मभूमि है और इसके विकास के लिए हमेशा से समपर्ण रहेगा। अब उपचुनाव सामने हैं और यह चुनाव विकास की दशा व दिशा तय करेगा। लोगों ने प्रदेश में भाजपा की 15 वर्ष की सरकार को देखा है। वहीं 15 महीने रही कांग्रेस सरकार का भी अनुभव लिया है। प्रदेश के व्यापक हित के लिए भाजपा सरकार का होना जरूरी है। प्रत्याशी कोई भी हो, लेकिन यह चुनाव भाजपा को स्थायीत्व प्रदान करेगा और वोट देने के लिए लोग भाजपा के साथ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान, नरेंद्र सिंह तोमर और ज्योतिरादित्य सिंधिया को देखें।

इस अवसर पर प्रदेश सरकार के उद्योग मंत्री ओमप्रकाश सखलेचा ने कहा कि कोरोना काल हमारे देश प्रदेश के उद्योग व्यापार जगत के लिए आपदा के साथ ही अवसर के रूप में उभरकर सामने आया है। जो चीन कोरोना काल से पहले विश्व का 50 प्रतिशत उत्पादन करता था, वह दुनिया के देशों द्वारा बहिष्कृत किए जाने के बाद सिमट गया है। अब आगे आने वाला वक्त भारत के उद्यमियों और व्यापारियों का है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का आत्मनिर्भर भारत का सपना साकार करने के लिए यह सबसे अनुकूल मौका है।

उन्होंने कहा कि अपने व्यापार, उद्योग को विस्तार देने के लिए ग्वालियर चंबल के व्यापारी एवं उद्योगपति विभिन्न सरकारी योजनाओं का लाभ उठाएं। उन्होंने कहा कि पिछले कई दिनों से ग्वालियर चंबल अंचल में ही हैं और यहां के छोटे मझोले एवं बडे़ सभी उद्यमियों और व्यापारियों से मिलकर उनकी समस्याएं सुन रहे हैं। उनके निराकरण का रास्ता भी बता रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ग्वालियर चंबल के व्यापारियों के साथ खड़ी है।  

केंद्रीय मंत्री तोमर विकास के हस्ताक्षर और गांरटी है : पाराशर

प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर ने कहा कि आजादी के बाद कांग्रेस की सरकारें रहीं, लेकिन विकास के मामले में ग्वालियर उपेक्षित रहा। थोड़े बहुत काम स्व. माधवराव सिंधिया के केंद्रीय मंत्री बनने पर हुए। कुछ केंद्रीय संस्थान ग्वालियर में आए, कुछ सड़कें बनी, एयरपोर्ट का विकास हुआ। वहीं जब नरेंद्र तोमर ग्वालियर के सांसद और केंद्रीय मंत्री बने तो ग्वालियर शहर में अकेले 10 हजार करोड़ रुपए के विकास कार्य हुए। एक साथ पांच ओवरब्रिज बने। पूरे ग्वालियर अंचल में ही 25 हजार करोड़ रुपए के काम हुए। आज ग्वालियर आओ तो ऐसा लगता है कि किसी महानगर में प्रवेश कर रहे हैं। यह सब संभव हुआ है, नरेंद्र तोमर के प्रयासों से, जो विकास के सशक्त हस्ताक्षर हैं।  

प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का किया सम्मान

कार्यक्रम में प्रदेश मीडिया प्रभारी लोकेंद्र पाराशर का सम्मान किया गया। उन्हें सम्मानित करते हुए व्यापारिक संगठन के प्रतिनिधियों ने कहा कि ग्वालियर के विकास का जो काम होगा, उसके लिए सेतु का काम पाराशर करेंगे, जिससे ग्वालियर और आगे बढ़ेगा।

कार्यक्रम का संचालन दीपक अग्रवाल, दीपक पमनानी एवं आभार राजकुमार गुप्ता ने व्यक्त किया। इस अवसर पर विजय गोयल, तरूण गोयल, अरविंद अग्रवाल, डॉ सीपी लाडकानी, राजकुमार प्रिंस, हरिबाबू गोयल, अतुल अग्रवाल, सुरेश बंसल, जयंत शर्मा, संजय कट्ठल, रमेश अग्रवाल, मुकेश अग्रवाल, रवि गुप्ता, चंद्रप्रकाश शिवहरे, कुलदीप भारद्वाज, अजय बंसल, पारस जैन, मनोज चैरसिया,  श्रीचंद्र बलेचा, आरपी माहेश्वरी, गोकुल बंसल, आशीष वैश्य उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!