कंट्रोल एंड कमांड सेंटर से होगी कचरा उठाने वाले वाहनों की लोकेशन की लाइव माॅनिटरिंग

ग्वालियर स्मार्ट सिटी ने कचरा संग्रहण वाहनों में लगाया जीपीएस सिस्टम। 125 वाहनों की हो रही है लाइव माॅनिटरिंग।

द ग्वालियर। अब ग्वालियर स्मार्ट सिटी का कंट्रोल कमांड सेंटर कचरा संग्रहण करने वाली गाड़ियों की जीपीएस तकनीक से मॉनिटरिंग करेगा। इस सुविधा से कचरा संग्रहण की गाड़ियों की व्यापक निगरानी की जा सकेगी। बुधवार को संभाग आयुक्त और निगम प्रशासक आशीष सक्सेना और पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर अविनाश शर्मा की उपस्थिति में स्मार्ट सिटी सीईओ जयति सिंह ने इस प्रणाली के बारे में विस्तार से जानकारी साझा की।

ग्वालियर स्मार्ट सिटी सीईओ जयति सिंह ने जानकारी बताया कि प्रदेश के बड़े शहरों की तरह ग्वालियर में भी अब सफाई व्यवस्था को व्यवस्थित और सुचारु करने के उद्देश्य से कई तरह के कार्य किए जा रहे हैं। इसी के अंतर्गत अब नगर निगम और ग्वालियर स्मार्ट सिटी मिलकर कई कदम उठा रहा है, जिसके तहत नगर निगम के कचरा संग्रहण में लगे लगभग 125 वाहनो में जीपीएस लगाकर हाईटेक व्यवस्था की गई है। जीपीएस युक्त कचरा संग्रहण गाड़ियों की लाइव मॉनिटरिंग कंट्रोल कमांड सेंटर से शुरु हो चुकी है।

सीईओ जयति सिंह ने बताया कि इस नई सुविधा से अब साफ-सफाई के नाम पर निकलने वाली गाड़ियां संबंधित वार्डों में जाकर कचरा उठाती है या नहीं इसकी पूरी जानकारी अब कंट्रोल कमांड सेंटर से लाइव देखी जा सकेगी। जीपीएस से कचरा संग्रहण वाहन कहां पर है और वह कहां जा रहा है, इसकी लाइव लोकेशन भी मिलती रहेगी। इस सुविधा से इन वाहनों की ट्रेकिंग करना आसान होगा। वहीं जरुरत पढ़ने पर कंट्रोल कमांड से इन वाहनों को निर्देश भी जारी किए जा सकेंगे। 

क्या है जीपीएस

गाड़ियों में ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम यानि जीपीएस वैसे तो ड्राइवरों को रास्ते की जानकारी और उनकी ट्रेकिंग के लिए इस्तेमाल किया जाता है। नए जमाने में जीपीएस का उपयोग बढ़ रहा है। इससे वाहन की स्पीड, लोकेशन पता चल सकती है। इसे वाहनों में लगाने के पीछे कचरा कब उठा, कहां से उठा और वाहन कहां डालने गया आदि पता लगाना है। इससे यह भी बता चल सकेगा कि वाहन कहां कितनी दूर रुका।

125 वाहनों की हो रही है लाइव मॉनिटरिंग

वर्तमान में शहरी क्षेत्र के 66 वार्डों में लगभग 165 वाहनों की मदद से डोर-टू-डोर कचरा संग्रहण का कार्य किया जा रहा है, जिनमे से पहले फेज में 125 वाहनों जीपीएस सिस्टम लगाया जा चुका है। इनकी मॉनिटरिंग स्मार्ट सिटी के कंट्रोल कमांड सेंटर से शुरु भी हो चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *