निगम मुख्यालय घेरने पहुंचे कांग्रेसियों को दौड़ा-दौड़ाकर पीटा, पानी की बौछारों से खदेड़ा

शहर की समस्‍याओं और निगम में भ्रष्‍टाचार के विरोध में निगम मुख्‍यालय घेरने पहुंचे थे कांग्रेसी। पुलिस की सख्‍ती के सामने जोश पड़ा ठंडा।   

द ग्वालियर। शहर की समस्‍याओं एवं नगर निगम में भ्रष्‍टाचार के विरोध में ग्‍वालियर नगर निगम मुख्‍यालय घेरने पहुंचे कांग्रेसियों को पुलिस ने दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। जैसे ही कांग्रेसियों ने पुलिस बैरीकेड्स पर चढ़कर दूसरी ओर कूदने की कोशिश की वैसे ही पुलिस ने उन्हें खदेड़ने के लिए वाटर कैनन से पानी की बौछार कर दी। अंतत: कांग्रेसियों का जोश ठंडा पड़ गया। बाद में कांग्रेसियों ने निगमायुक्त शिवम वर्मा को ज्ञापन देकर समस्याएं हल न होने पर फिर आंदोलन की चेतावनी दी।

कांग्रेस नेत्री रश्मि पवार शर्मा के नेतृत्व में कांग्रेसी ओल्ड गेस्ट हाउस पर एकजुट हुए। जहां सभा को विधायक प्रवीण पाठक, शहर जिला कांग्रेस अध्यक्ष देवेन्द्र शर्मा ने संबोधित किया। रश्मि पवार ने कहा कि स्ट्रीट लाइट बंद रहती हैं, जिससे महिलाओं के साथ वारदातें बढ़ रही हैं। सड़कों के बड़े-बड़े गड्डे हादसे का सबब बन रहे हैं। सीवर चैंबर ओवरफ्लो हो रहे हैं। घरों में गंदा पानी आ रहा है। निगम में भ्रष्टाचार चरम पर है। थीम रोड पर फिर से 300 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे हैं, जबकि गली मोहल्लों की सड़कें बदहाल हैं। थीम रोड को स्मार्ट रोड बनाने में रुपयों की बर्बादी की जा रही है।

बैरीकेड्स पर चढ़ते ही फैंका पानी

करीब 300 कार्यकर्ताओं के साथ रश्मि पवार ने मोर्चा संभाला और मुख्यालय की ओर कूच की। तरण पुष्कर के पास पुलिस ने बैरीकेड्स लगाकर मुख्यालय जाने वाला रास्ता बंद कर दिया था, लेकिन कार्यकर्ताओं ने बैरीकेड्स पर चढ़कर दूसरी ओर कूदने का प्रयास किया तो पुलिस ने डंडे चलाना शुरू कर दिया। इससे कुछ कार्यकर्ता पीछे हट गए। बाद में पुलिस ने वाटर कैनन से पानी की बौछार कर दी। इससे कार्यकर्ताओं का जोश कम हो गया और वे नीचे आ गए। बाद में निगमायुक्त शिवम वर्मा उनके बीच पहुंचे और ज्ञापन लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *