उपचुनाव : नामांकन पत्र में अपराध की जानकारी छुपाने का मामला पहुंचा हाईकोर्ट

थाटीपुर थाने में 2011 में हत्‍या का मामला हुआ था दर्ज। आशुतोष पांडेय की हत्‍या का था आरोप। नामांकन पत्र निरस्‍त करने की मांग।

द ग्वालियर। उपचुनाव (ByElection) में निर्दलीय प्रत्याशी (Independent candidate) द्वारा अपराधिक मामले की जानकारी छुपाकर नामांकन पत्र (Nomination Form) भरने का मामला हाइकोर्ट (High Court Gwalior ) पहुंच गया है। हाईकोर्ट में एक याचिका प्रस्तुत कर उनके नामांकन पत्र को निरस्त किए जाने की मांग की गई है।

मुरैना जिले (Morena District) की अंबाह विधानसभा (Ambah Assembly) क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी  अभिनव छारी (Abhinav Chari) के रूप में चुनाव लड़ रहे अभिनव छारी द्वारा नामांकन पत्र में तथ्य छुपाए जाने पर उनके खिलाफ मामला दर्ज किए जाने की मांग भी की गई है।

मुरैना निवासी गिर्राज शर्मा ने अधिवक्ता ईसान पंडित के माध्यम से याचिका प्रस्तुत करते हुए कहां है कि चुनाव मैदान में भाग्य आजमाने वाले प्रत्येक उम्मीदवार को यदि उसके खिलाफ कोई मामला दर्ज किया गया है तो उसकी जानकारी देना जरूरी है, भले ही वह उसमें दोषमुक्त तो ना हुआ हो। याचिका में कहा गया कि अभिनव के खिलाफ थाटीपुर थाने में 2011 में हत्या का मामला दर्ज हुआ था। उस पर आशुतोष पांडेय की हत्या का आरोप था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!