पीएमटी घोटाले के आरोपी को हाईकोर्ट ने कहा पहले ट्रायल कोर्ट में करें समर्पण

ग्वालियर उच्च न्यायालय ने पीएमटी घोटाले के आरोपी आशीष चौहान के अग्रिम जमानत आवेदन का यह कहते हुए ख़ारिज कर दिया कि पहले आरोपी को ट्रायल कोर्ट में समर्पण करना होगा। इसके बाद नियमित जमानत के लिए आवेदन प्रस्तुत किया जा सकता है।

आरोपी आशीष चौहान ने न्यायालय में आवेदन प्रस्तुत कर कहा कि उसके खिलाफ सीबीआई ने भादसं की धारा 120बी, 109, 201, 419, 420, 467, 468, 471 तथा मध्यप्रदेश परीक्षा अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया गया है। सीबीआई इस मामले में उसे गिरफ्तार करना चाहती है। उसे इस मामले में अग्रिम जमानत का लाभ दिया जाए। न्यायालय ने सीबीआई के अधिवक्ता एवं आरोपी के अधिवक्ता को सुनने के बाद कहा कि इस मामले में सहआरोपी विनोद कुमार सिंह के आवेदन पर न्यायालय उसे ट्रायल कोर्ट में सरेंडर करने के निर्देश दे चुकी है। इसके बाद उसे नियमित जमानत के लिए आवेदन करने को कहा गया है। ट्रायल कोर्ट इस आवेदन पर प्रकरण के तथ्यों को देखते हुए विचार करेगा कि क्या आरोपी की हिरासत में पूछताछ की आवश्यकता है या नहीं। न्यायालय ने पूर्व के आदेश की तरह ही इस मामले में भी आरोपी आशीष चौहान को न्यायालय में समर्पण करने के निर्देश देते हुए याचिका का निराकरण कर दिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *