Home अपना शहर रेलवे निरीक्षण को आए महाप्रबंधक, सांसद शेजवलकर ने यात्री सुविधाओं को लेकर दिए सुझाव

निरीक्षण को आए महाप्रबंधक, सांसद शेजवलकर ने यात्री सुविधाओं को लेकर दिए सुझाव

8 second read
0
0
35

उत्‍तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक का झांसी डिवीजन में वार्षिक निरीक्षण। धौलपुर से लौटते हुए ग्‍वालियर रुके। सांसद से चर्चा के बाद झांसी रवाना।

द ग्‍वालियर। उत्‍तर मध्‍य रेलवे के प्रभारी महाप्रबंधक (जीएम) झांसी मंडल का वार्षिक निरीक्षण करते हुए ग्‍वालियर आए। इस दौरान न सिर्फ सांसद विवेक नारायण शेजवलकर ने रेल यात्री सुविधाओं को लेकर महाप्रबंधक से मुलाकात कर अपने सुझाव दिए, बल्कि रेलवे के तमाम संगठनों एवं दैनिक यात्रियों ने अपनी-अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपे। जाते-जाते महाप्रबंधक ने सांसद को उनके सुझाव पर गंभीरता से विचार कर निराकरण का आश्‍वासन दिया। वहीं, ज्ञापनों पर भी उचित निर्णय लेने का भरोसा दिलाया।

रेलवे के प्रत्‍येक महाप्रबंधक द्वारा अधीन मंडलों का सालाना निरीक्षण किया जाता है। पिछले वर्ष उत्‍तर मध्‍य रेलवे के महाप्रबंधक ने सालाना निरीक्षण नहीं किया था। उनके सेवानिवृत्‍त होने के बाद पूर्वोत्‍तर रेलवे के महाप्रबंधक विनय कुमार त्रिपाठी को उत्‍तर मध्‍य रेलवे का अतिरिक्‍त प्रभार सौंपा गया है। शुक्रवार सुबह महाप्रबंधक प्रयागराज से झांसी पहुंचे, जहां से झांसी मंडल के डीआरएम संदीप माथुर के साथ जीएम स्‍पेशल से पहले धौलपुर पहुंचे। वहां से विंडा निरीक्षण करते हुए ग्‍वालियर आए। इससे पहले चंबल पुल पर उतरकर निरीक्षण किया।

सांसद ने की चर्चा, यात्री सुविधा बढ़ाने के दिए सुझाव

ग्‍वालियर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर यात्री सुविधाओं एवं रेलवे विकास कार्यों की वर्तमान स्थिति के बारे में चर्चा करने के लिए रेलवे स्‍टेशन पहुंचे। जहां उन्‍होंने जीएम से ग्‍वालियर रेलवे स्‍टेशन के सौन्‍दर्यीकरण को लेकर प्रस्‍तावित‍ परियोजना की वर्तमान स्थिति के बारे में जानकारी मांगी। उन्‍होंने सुझाव दिया कि ग्‍वालियर रेलवे स्‍टेशन के सौन्‍दर्यीकरण हेतु प्रस्‍तावित‍ परियोजना में प्‍लेटफॉर्म नंबर 01 के गेट क्रं. 01 के हेरिटेज स्‍वरूप को यथावत रखा जाना चाहिए, क्‍योंकि यह ग्‍वालियर क्षेत्र के ऐतिहासिक एवं पुरातात्विक महत्‍व की परिचायक है। उन्‍होंने ग्‍वालियर स्‍टेशन के प्‍लेटफॉर्म नंबर चार पर एक्‍सीलेटर लगाने‚ दिव्‍यांगों के लिए अतिरिक्‍त रैंप बनवाने‚ पार्किंग व्‍यवस्‍था दुरूस्‍त करने‚ प्‍लेटफॉर्मों की संख्‍या बढाने एवं सामान्‍य प्रतिक्षालय को वातानुकूलित करने सहित अन्‍य विषयों पर भी बातचीत की।

सांसद शेजवलकर ने सवाई माधोपुर झांसी रेलवे लाईन की प्रगति के बारे में जानकारी ली। वहीं, पुणे जाने के लिए यशवंतपुर (बैंगलोर) हजरत निज़ामुद्दीन हमसफ़र एक्सप्रेस का ग्‍वालियर रोकने एवं ग्‍वालियर से डबरा‚ दतिया स्‍टॉपेज देते हुए भोपाल के लिए सुबह के समय नई मेल एक्‍सप्रेस शुरू करने की भी बात रखी। हैदराबाद से चलने वाली 12721 दक्षिण एक्‍सप्रेस को काठगोदाम तक करने का भी सुझाव दिया, क्‍योंकि उत्‍तराखंड के लिए सीधी कोई भी रेल सुविधा नहीं है। दिल्ली से सिंगरौली तक चलने वाली 22167-68 का ग्वालियर स्‍टॉपेज करने एवं चंबल एक्‍सप्रेस पुन: चालू करने को भी कहा।

सांसद ने कहा कि बिरला नगर रेलवे स्‍टेशन का उन्‍नयन किया जाकर ग्‍वालियर स्‍टेशन का दबाव कम किया जा सकता है। साथ ही उपनगर ग्‍वालियर के निवासियों को रेलवे टिकट सुविधा के लिए सेवा नगर व हजीरा के बीच एक नया आरक्षण केंद्र स्‍थापित करने व घोसीपुरा रेलवे स्‍टेशन के आरक्षण केंद्र को नियमित रूप से संचालित करने पर भी बात की। इसके अलावा डबरा स्‍टेशन पर उज्‍जैनी एक्‍सप्रेस, श्रीधाम, जी.टी. एक्‍सप्रेस या अन्‍य किसी ट्रेन के स्‍टॉपेज पर भी विचार करने को कहा। उन्‍होंने डबरा में हादसों को रोकने के लिए जल्‍द अंडरब्रिज बनाने को भी कहा। इसके अलावा रेलवे कर्मचारियों के लिए हॉली-डे होम बनाने की भी मांग की। 

अहमदाबाद सुपरफास्‍ट ट्रेन रोज चलाने की मांग

धौलपुर से ग्‍वालियर नौकरी, शिक्षा एवं चिकित्‍सा के लिए प्रतिदिन आने वाले यात्रियों की सुधिवा को दृष्टिगत रखते हुए दैनिक यात्रियों ने महाप्रबंधक को ज्ञापन सौंपा। उन्‍होंने मांग की कि सुबह धौलपुर से ग्‍वालियर आने एवं शाम को वापस जाने के लिए कोई भी सुपरफास्‍ट ट्रेन नहीं है, जिससे नौकरी एवं पढ़ाई करने आने वाले दैनिक यात्रियों को दिक्‍कतों को सामना करना पड़ता है। उन्‍होंने जीएम से अहदाबाद सुपरफास्‍ट ट्रेन को नियमित ग्‍वालियर से चलाने की मांग की, जिससे धौलपुर राजस्‍थान के अन्‍य शहरों से भी व्‍यापार की दृष्टि से भी जुड़ सके।

यात्रियों का सामान घर से मंगवाने वाली कंपनी को विरोध

उत्‍तर मध्‍य रेलवे कुली संघ ग्‍वालियर ने रेलवे द्वारा यात्रियों का सामान घर से मंगवाने और घर छुड़वाने के लिए कंपनी को ठेका दिए जाने का विरोध किया। संघ ने जीएम को ज्ञापन देकर कहा कि उससे कुलियों की रोजी-रोटी पर असर पड़ेगा। इसके अलावा उन्‍होंने ईएसआई, पीएफ, फैमली पास में बच्‍चों को शामिल करने, सामान ढुलाई भाड़े में वृद्धि आदि के अलावा वाटर कूलर एवं आराम करने की उचित व्‍यवस्‍था की मांग को लेकर ज्ञापन सौंपा।

Load More Related Articles
  • vbn

    Event …
  • lmn

    हल्ला-बोल …
  • klm

    आपकी-आवाज …
Load More By gwalior
Load More In रेलवे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

vbn

Event …