Home अपना शहर अपराध पुलिस की वर्किंग स्टाइल ऐसी हो कि अपराधी खौफजदा हो जाए : आईजी

पुलिस की वर्किंग स्टाइल ऐसी हो कि अपराधी खौफजदा हो जाए : आईजी

2 second read
0
0
33

आईजी ग्‍वालियर अविनाश शर्मा ने कहा कि अपराधों की पड़ताल का हो एक्‍शन प्‍लान, वक्‍त पर विवेचना नहीं करने वाले विवेचक पर होगी कार्रवाही।

द ग्वालियर। आईजी ग्‍वालियर अविनाश शर्मा ने कहा कि पुलिस के खौफ से अपराधियों खौफजदा हो। इसके लिए माफियाओं, मिलावटखोरों, अवैध शराब, अवैध हथियार व मादक पदार्थ का व्यापार करने वालों के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाना चाहिए। आईजी ग्वालियर ने लंबित अपराधों में लापरवाही बरतने वाले विवेचना के खिलाफ कार्यवाही करने के निर्देश पुलिस अधीक्षक को दिये। आईजी ग्वालियर ने चिन्हित अपराध, सायबर अपराध पर विशेष ध्यान देने हेतु समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया। आईजी ग्‍वालियर ने यह बात पुलिस अधीक्षक कार्यालय सभागार में ग्वालियर जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारियों तथा शहर व देहात के समस्त थाना प्रभारियों की नववर्ष में प्रथम अपराध समीक्षा बैठक मे कही।

 आईजी ग्वालियर ने थाना प्रभारियों से उनके थानों में लंबित अपराधों की जानकारी प्राप्त की तथा उनके शीघ्र निराकरण के निर्देश दिये। बैठक में पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन द्वारा थानावार कानून व्यवस्था तथा थाने में लंबित अपराधों की जानकारी भी प्राप्त की गई तथा उनके द्वारा शीघ्र निकाल के निर्देश भी दिये गये। उन्होने कहा कि विवेचकों को विवेचना के लिये एक्शन प्लान तैयार करना चाहिए, जिसमें कार्य करने की समय सीमा निर्धारित हो। उन्होने सीएम हेल्पलाईन की लंबित शिकायतों के निराकरण के भी निर्देश दिये। आईजी ग्वालियर ने आदतन बदमाशों के खिलाफ सख्त कार्यवाही करने के निर्देश थाना प्रभारियों को दिये।

पुलिस महानिरीक्षक ग्वालियर जोन ने जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारियों तथा थाना प्रभारियों को एससी-एसटी के लंबित अपराधों के निकाल के लिये समयसीमा में निराकरण करने की सख्त हिदायत दी और कहा कि समयावधि में लंबित अपराधो की विवेचना हो। ऐसा नही होने पर विवेचकों के खिलाफ कार्यवाही सुनिश्चित की जावेगी। लंबित स्थाई वारण्टों की तामीली, अवैध शराब, मादक पदार्थ तथा अबैध हथियारों के विरूद्ध अभियान चलाकर प्रभावी कार्यवाही की जावे। पुलिस अधीक्षक ने समस्त थाना प्रभारियों को हिदायत दी कि वह बेसिक पुलिसिंग पर विशेष ध्यान दें जिससे अपराधों में आवश्यक रूप से कमी परिलक्षित होगी। सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का समयसीमा में निराकरण करें। गुम बालक/बालिकाओं की दस्तयाबी के प्रयास किये जाए। थानों में अधिक से अधिक मायनर एक्ट व प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की जावे। पुलिस अधीक्षक ग्वालियर ने बैठक में उपस्थित समस्त थाना प्रभारियों को हिदायत दी कि चोरी व नकबजनी तथा वाहन चोरी की घटनाओं पर पूर्णतः अंकुश लगाया जावे तथा पुराने नकबजनी के अपराधों का शीघ्रता से खुलासा करने के प्रयास करें।

Load More Related Articles
  • vbn

    Event …
  • lmn

    हल्ला-बोल …
  • klm

    आपकी-आवाज …
Load More By gwalior
Load More In अपराध

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Check Also

vbn

Event …